Thursday, 29 July 2021

कर्नाटक बना ट्रांसजेंडर व्यक्तियों के लिए नौकरी आरक्षित करने वाला पहला राज्य

कर्नाटक बना ट्रांसजेंडर व्यक्तियों के लिए नौकरी आरक्षित करने वाला पहला राज्य

 


कर्नाटक (Karnataka) सभी सरकारी सेवाओं में ट्रांसजेंडर समुदाय (transgender community) के लिए एक प्रतिशत आरक्षण प्रदान करने वाला देश का पहला राज्य बन गया है। सरकार ने इस संबंध में उच्च न्यायालय (High Court) को एक रिपोर्ट सौंपी जिसमें बताया गया कि कर्नाटक सिविल सेवा (Karnataka Civil Service) (सामान्य भर्ती - General Recruitment) नियम, 1977 में संशोधन के बाद एक अधिसूचना पहले ही जारी की जा चुकी है।

Buy Prime Test Series for all Banking, SSC, Insurance & other exams

तीसरे लिंग के लिए सभी सामान्य और साथ ही आरक्षित श्रेणियों में एक प्रतिशत आरक्षण निर्दिष्ट करता है। जब भी सरकारी नौकरियों के लिए आवेदन आमंत्रित करने वाली अधिसूचना प्रकाशित की जाती है, तो पुरुष और महिला कॉलम के साथ 'अन्य' कॉलम जोड़ा जाना चाहिए। अधिसूचना में यह भी रेखांकित किया गया है कि चयन की प्रक्रिया में ट्रांसजेंडरों के खिलाफ कोई भेदभाव नहीं होना चाहिए। ट्रांसजेंडर उम्मीदवारों की अनुपलब्धता के मामले में, अधिसूचना नोट में एक ही श्रेणी के पुरुष या महिला को नौकरी दी जा सकती है।

सभी प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए महत्वपूर्ण टेकअवे:

  • कर्नाटक के मुख्यमंत्री: बसवराज एस बोम्मई (Basavaraj S Bommai);
  • कर्नाटक राज्यपाल: थावर चंद गहलोत (Thawar Chand Gehlot);
  • कर्नाटक राजधानी: बेंगलुरु (Bengaluru)।


Find More State In News Here

Post a Comment

Whatsapp Button works on Mobile Device only

Start typing and press Enter to search