Wednesday, 10 February 2021

ऑर्बिटल ट्रान्सफर व्हीकल के लिए स्कायरूट और बेलाट्रिक्स के बीच समझौता

ऑर्बिटल ट्रान्सफर व्हीकल के लिए स्कायरूट और बेलाट्रिक्स के बीच समझौता

 


स्कायरूट द्वारा विकसित किए जा रहे लॉन्च वाहनों की विक्रम श्रृंखला के ऊपरी चरण में, बेलाट्रिक्स एयरोस्पेस द्वारा विकसित किए जा रहे ऑर्बिटल ट्रांसफर वाहन (Orbital Transfer Vehicle) का उपयोग करने के लिए, स्कायरूट एयरोस्पेस ने बेलैट्रिक्स एयरोस्पेस के साथ एक समझौता ज्ञापन (MoU) पर हस्ताक्षर किए हैं. वाहन के विक्रम रॉकेट पर 2023 में पृथ्वी की निम्न कक्षा में लॉन्च होने की संभावना है. वाहन से वैश्विक ऑपरेटरों को संचार और पृथ्वी अवलोकन उपग्रहों को लॉन्च करने के लिए समय और लागत कम करने में मदद करने की संभावना है.


WARRIOR 5.0 Batch for SBI, RRB, RBI and IBPS Exams Banking Awareness Online Coaching | Bilingual


ऑर्बिटल ट्रान्सफर व्हीकल (OTV)

  • यह एक अंतरिक्ष यान है जो विभिन्न ऑर्बिट ऑपरेशंस जैसे कि ग्राहक पेलोड की तैनाती सटीक कक्षाओं में कर सकता है, जो एक लॉन्च वाहन को पारंपरिक रूप से जितना संभव हो उतना अधिक कक्षा में उपग्रह को पहुंचाने की अनुमति देता है.
  • सरल शब्दों में, छोटे उपग्रह को अपनी परिचालन कक्षाओं में ले जाने के लिए OTV एक 'टैक्सी इन स्पेस' की तरह है.
  • OTV छोटे उपग्रहों के लिए राइड-शेयरिंग प्रस्तावित करेगा और यात्रियों में से प्रत्येक को अंतरिक्ष में उनके इच्छित स्लॉट्स पर छोड़ देगा.


आगामी प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए महत्वपूर्ण तथ्य:

  • स्कायरूट एयरोस्पेस के संस्थापक और सीईओ: पवन कुमार चंदना.
  • स्कायरूट एयरोस्पेस स्थापित: 12 जून 2018.
  • स्कायरूट एयरोस्पेस मुख्यालय: हैदराबाद.


Find More News Related to Agreements


Post a comment

Whatsapp Button works on Mobile Device only

Start typing and press Enter to search