Thursday, 18 February 2021

ईरान-रूस के दो दिवसीय नौसेना अभ्यास में शामिल हुआ भारत

ईरान-रूस के दो दिवसीय नौसेना अभ्यास में शामिल हुआ भारत

 


ईरान और रूस की "ईरान-रूस समुद्री सुरक्षा बेल्ट 2021" नामक नौसेना अभ्यास में भारत भी शामिल हुआ, जो हिंद महासागर के उत्तरी भाग में हुआ. चीनी नौसेना भी अभ्यास में शामिल होगी. ड्रिल का उद्देश्य अंतर्राष्ट्रीय समुद्री व्यापार की सुरक्षा को बढ़ाना, समुद्री डकैती और आतंकवाद का सामना करना और सूचनाओं का आदान-प्रदान करना है.


Study Material for all the upcoming Bank and Insurance exams in 2021: Bank Maha Pack


ड्रिल के बारे में:

  • ड्रिल 17,000 वर्ग किलोमीटर (6,500 वर्ग मील) के क्षेत्र को कवर करेगा.
  • इसमें समुद्र और हवाई लक्ष्यों पर शूटिंग और अपहृत जहाजों को मुक्त करना, साथ ही खोज और बचाव तथा समुद्री डकैती विरोधी अभियान शामिल होंगे.
  • अभ्यास 'ईरान-रूस समुद्री सुरक्षा बेल्ट' इतना लचीला है कि कोई भी देश अगर चाहे तो इसमें शामिल हो सकता है.


Find More News Related to Defence


Post a comment

Whatsapp Button works on Mobile Device only

Start typing and press Enter to search