Monday, 6 July 2020

कोल इंडिया लिमिटेड और NLC ने किया समझौता

कोल इंडिया लिमिटेड और NLC ने किया समझौता

सरकार के स्वामित्व वाली खनन की बड़ी कंपनियों एनएलसी इंडिया लिमिटेड (NLC India Ltd) और कोल इंडिया लिमिटेड ने 5,000 मेगावाट की बिजली के लिए सौर और थर्मल पावर परिसंपत्तियों को विकसित करने के लिए एक संयुक्त उद्यम का गठन किया है। दोनों कंपनियां संयुक्त उद्यम कंपनी (joint venture company) में समान 50:50 इक्विटी लगाएंगी।

Boost your Banking Awareness Knowledge with Adda247 Live Batch: TARGET GA BATCH | Banking Awareness Batch for SBI, RRB, RBI and IBPS Exams

वर्ष 2025 तक इसका अनुमानित पूंजी व्यय 70:30 के ऋण-इक्विटी अनुपात के साथ 1.28 लाख करोड़ रु. है। कोल इंडिया दुनिया भर में सबसे बड़ा कोयला उत्पादक है और भारत में आठ राज्यों में फैले 83 खनन क्षेत्रों से गुजरता है। इससे सालाना 607 मिलियन टन कोयले का उत्पादन होता है। एनएलसी इंडिया लिमिटेड भारत में जीवाश्म ईंधन खनन क्षेत्र और ताप विद्युत उत्पादन में भारत की कंपनी 'नवरत्न' है।

 

सभी प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए महत्वपूर्ण टेकअवे:

  • कोल इंडिया का मुख्यालय: कोलकाता, पश्चिम बंगाल।
  • प्रमोद अग्रवाल कोल इंडिया लिमिटेड के अध्यक्ष और प्रबंध निदेशक हैं।

Find More News Related to Agreements

Post a comment

Whatsapp Button works on Mobile Device only

Start typing and press Enter to search