Wednesday, 13 May 2020

वर्ष 2020 के ड्यूश फ्रीडम ऑफ स्पीच अवार्ड्स का हुआ ऐलान

वर्ष 2020 के ड्यूश फ्रीडम ऑफ स्पीच अवार्ड्स का हुआ ऐलान

दुनिया भर में 14 देशों के 17 पत्रकारों को "मीडिया में मानव अधिकारों और अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता के लिए उत्कृष्ट प्रतिबद्धता" दिखाने के लिए Deutsche Welle Freedom of Speech Award 2020 के लिए चुना गया है।


भारतीय पत्रकार सिद्धार्थ वरदराजन, 3 मई 2020 को विश्व प्रेस स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर जर्मन पब्लिक न्यूज़ आउटलेट डॉयचे वेले द्वारा प्रस्तुत किए गए वर्ष 2020 के फ्रीडम ऑफ़ स्पीच अवार्ड के 17 प्राप्तकर्ताओं में से एक हैं। यह पुरस्कार दुनिया भर के उन पत्रकारों को प्रदान किया गया है, जिन्हें COVID-19 महामारी पर अपनी रिपोर्टिंग के कारण कठिनाइयों का सामना करना पड़ा हो, यह उन्हें गिरफ्तार किया गया हो अथवा धमकी दी गई हो।



यहाँ विजेता की पूरी सूची दी जा रही है:

S.No.
विजेता
देश
1
Siddharth Varadarajan
भारत
2
Ana Lalic
सर्बिया
3
BlazZgaga
स्लोवेनिया
4
SergejSazuk
बेलोरूस
5
Elena Milashina
रूस
6
Darvinson Rojas
वेनेजुएला
7
Mohammad Mosaed
ईरान
8
Beatific Gumbwanda
जिम्बाब्वे
9
David MusisiKaryankolo
युगांडा
10
NurcanBaysal
तुर्की
11
İsmetCigit
तुर्की
12
Fares Sayegh
जॉर्डन
13
Sovann Rithy
कंबोडिया
14
Maria Victoria Beltran
फिलीपींस
15
Chen Qiushi
चीन
16
Li Zehua
चीन
17
Fang Bin
चीन


Deutsche Welle Freedom of Speech Award के बारे में:

साल 2015 से जर्मन पब्लिक न्यूज़ आउटलेट डॉयचे वेले द्वारा फ्रीडम ऑफ स्पीच अवार्ड वार्षिक रूप ऐसे व्यक्तियों को दिया जाता है, जिन्होंने मीडिया में मानव अधिकारों और अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता के लिए उत्कृष्ट प्रतिबद्धता के लिए नई पहल प्रस्तुत की होती है।

Post a comment

Whatsapp Button works on Mobile Device only

Start typing and press Enter to search