Wednesday, 22 April 2020

एनबीआरआई ने तैयार किया अल्कोहल-आधारित हर्बल सैनिटाइज़र

एनबीआरआई ने तैयार किया अल्कोहल-आधारित हर्बल सैनिटाइज़र

राष्ट्रीय वनस्पति अनुसंधान संस्थान (National Botanical Research Institute) ने COVID-19 के प्रकोप के चलते सैनिटाइज़र की बढ़ती मांग को देखते अल्कोहल-आधारित हर्बल सैनिटाइज़र तैयार किया है। विश्व स्वास्थ्य संगठन के दिशा निर्देशों के अनुसार वैज्ञानिक और औद्योगिक अनुसंधान परिषद, सीएसआईआर-अरोमा मिशन के तहत अल्कोहल-आधारित हर्बल सैनिटाइज़र तैयार किया गया है। इस नए हर्बल सैनिटाइजर में तुलसी तेल के को हर्बल घटक और आइसोप्रोपिल अल्कोहल के रूप में डाला गया है। तुलसी का तेल प्रभावी प्राकृतिक रोगाणुरोधी एजेंट है, जबकि आइसोप्रोपिल अल्कोहल कीटाणुओं को मारने में सहायक होगा।


ये अल्कोहल-आधारित हर्बल सैनिटाइज़र 'क्लीन हैंड जेल' नाम से उपलब्ध होगा। हर्बल सैनिटाइज़र का प्रभाव लगभग 25 मिनट तक रहेगा, जिससे त्वचा को डिहाईड्रटिंग से बचाया जा सकेगा।

उपरोक्त समाचारों से आने-वाली परीक्षाओं के लिए महत्वपूर्ण तथ्य-
  • राष्ट्रीय वनस्पति अनुसंधान संस्थान के निदेशक: डॉ. एस. बारिक.

Post a comment

Whatsapp Button works on Mobile Device only

Start typing and press Enter to search