Thursday, 19 March 2020

डीएसी ने वायु सेना के लिए स्वदेशी तेजस लड़ाकू विमान खरीदने की दी मंजूरी

डीएसी ने वायु सेना के लिए स्वदेशी तेजस लड़ाकू विमान खरीदने की दी मंजूरी

रक्षा अधिग्रहण परिषद (Defence Acquisition Council) ने भारतीय वायु सेना के लिए स्वदेशी तेजस लड़ाकू विमान की खरीद को मंजूरी दे दी है। इससे वायु सेना के लिए कुल 83 स्वदेशी तेजस लड़ाकू विमान खरीदे जाएंगे। देश में निर्मित तेजस लड़ाकू विमान की खरीद से मेक इन इंडिया अभियान को भी बल मिलने की संभावना है क्योंकि इन विमानों को स्वदेशी रूप से डिजाइन किया गया है। भविष्य में तेजस विमान वायुसेना के बेड़े का सबसे प्रमुख विमान बनने की उम्मीद है।


इसके अलावा रक्षा अधिग्रहण परिषद ने 1,300 करोड़ रुपये के स्वदेशी रक्षा उपकरणों की खरीद को भी मंजूरी दी है।

"तेजस" से जुड़े महतवपूर्ण तथ्य:

तेजस स्वदेशी रूप से डिज़ाइन किया गया हल्का लड़ाकू विमान (Light Combat Aircraft) है। तेजस को रक्षा अनुसंधान और विकास संगठन (DRDO) के तत्वाधान में विमान विकास एजेंसी (Aircraft Development Agency) द्वारा डिजाइन किया गया है। लाइट कॉम्बैट एयरक्राफ्ट का निर्माण हिंदुस्तान एयरोनॉटिक्स लिमिटेड (HAL) द्वारा किया गया है। ये पहले ऑर्डर किए गए तेजस विमान का नया उन्नत Mk1A वर्जन होगा।

उपरोक्त समाचारों से आने-वाली परीक्षाओं के लिए महत्वपूर्ण तथ्य-
  • वायु सेनाध्यक्ष: एयर चीफ मार्शल राकेश कुमार सिंह भदौरिया.

Post a comment

Whatsapp Button works on Mobile Device only

Start typing and press Enter to search