gdfgerwgt34t24tfdv
Home   »   इलेक्ट्रॉनिक अंग वाले विकलांग एथलीटों के...

इलेक्ट्रॉनिक अंग वाले विकलांग एथलीटों के लिए विश्व की पहली साइबेथेलॉन चैम्पियनशिप उर्फ बायोनिक ओलंपिक

स्विस फ़ेडरल इंस्टिट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी ईटीएच ज़्यूरिख़ द्वारा ज़्यूरिख़ प्रान्त के क्लोटेन के स्विस एरीना में विकलांग एथलीटों के लिए विश्व की पहली साइबेथेलॉन चैम्पियनशिप का आयोजन किया जा रहा है. ‘बायोनिक ओलंपिक्स’ के नाम से प्रसिद्ध यह आयोजन, पैरालंपिक से इस मायने में अलग है कि इसमें प्रतियोगी नवीनतम सहायक तकनीकों के प्रयोग से दैनिक जीवन की चुनौतियों और कार्यों को करते हुए अपनी क्षमता दिखायेंगे और एक दूसरे के खिलाफ प्रतिस्पर्धा करेंगे.

इलेक्ट्रॉनिक अंग वाले विकलांग एथलीटों के लिए विश्व की पहली साइबेथेलॉन चैम्पियनशिप उर्फ बायोनिक ओलंपिक |_2.1

साइबेथेलॉन में छः मुख्य इवेंट होंगे जिनमें से प्रत्येक एक विशेष रूप से सहायक तकनीक पर केन्द्रित होगा. इन प्रत्येक इवेंट के लिए जीतने वाली टीम को दो पदक दिए जायेंगे : एक उस पायलट या एथलीट के लिए जो उपकरण के माध्यम से खेल रहा है और दूसरा उपकरण प्रदाता के लिए. छः मुख्य इवेंट हैं :
  • ब्रेन कंप्यूटर इंटरफेस (BCI) रेस, जिसमें पायलटों के लिए मोटर फंक्शन में कुछ कमियों वाले एक वीडियो गेम का प्रयोग करना होगा
  • कार्यात्मक बिजली की उत्तेजना (एफईएस) बाइक रेस, इसकी विशेषता रीढ़ की हड्डी की चोट वाले पायलटों को उनके गैर मोटर चालित एफईएस बाइक से रेस करना है.
  • पावर्ड आर्म प्रोस्थेसिस रेस, जिसमें एक या दोनों बांह खो चुके पायलटों को रोजमर्रा के कार्यों की नक़ल बनाये हुए कार्यों को पूरा करने की चुनौती होगी.
  • पॉवर लेग प्रोस्थेसिस रेस
  • पावर्ड एक्सोस्केलेटन रेस
  • पावर्ड व्हीलचेयर रेस

TOPICS:

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *