Monday, 30 August 2021

RBI ने भारत-नेपाल प्रेषण सुविधा के अंतर्गत ट्रान्सफर की सीमा को बढ़ाकर किया 2 लाख रुपये

RBI ने भारत-नेपाल प्रेषण सुविधा के अंतर्गत ट्रान्सफर की सीमा को बढ़ाकर किया 2 लाख रुपये

 


भारतीय रिजर्व बैंक ने भारत-नेपाल प्रेषण सुविधा योजना के तहत धन हस्तांतरण की सीमा 50,000 रुपये प्रति लेनदेन से बढ़ाकर 2 लाख रुपये प्रति लेनदेन कर दी है। पहले एक साल में 12 लेन-देन की अधिकतम सीमा थी। अब यह सीमा भी हटा दी गई है। हालांकि, भारत-नेपाल प्रेषण सुविधा के तहत नकद-आधारित हस्तांतरण के लिए, 50,000 रुपये की प्रति लेन-देन की सीमा अभी भी एक वर्ष में अधिकतम 12 स्थानान्तरण के साथ मौजूद रहेगी।


Buy Prime Test Series for all Banking, SSC, Insurance & other exams


भारत-नेपाल प्रेषण सुविधा के बारे में:

भारत-नेपाल प्रेषण सुविधा भारत से नेपाल के लिए एक फंड ट्रांसफर तंत्र है जो NEFT पर संचालित होता है। इसे वर्ष 2008 में आरबीआई द्वारा शुरू किया गया था। इसे भारत में एसबीआई और नेपाल में नेपाल एसबीआई बैंक लिमिटेड (एनएसबीएल) द्वारा प्रबंधित किया जाता है।


Find More Banking News Here

Post a Comment

Whatsapp Button works on Mobile Device only

Start typing and press Enter to search