Friday, 4 October 2019

आशुरोव हुए 2019 UNHCR नानसेन शरणार्थी पुरस्कार से सम्मानित

आशुरोव हुए 2019 UNHCR नानसेन शरणार्थी पुरस्कार से सम्मानित


किर्गिस्तान के मानवाधिकार वकील अज़ीज़बेक आशुरोव को 2019 संयुक्त राष्ट्र उच्चायुक्त शरणार्थी (UNHCR) प्रतिष्ठित नानसेन पुरस्कार से सम्मानित किया गया है. आशुरोव को 7 अक्टूबर, 2019 को जेनेवा में एक समारोह में पुरस्कार दिया जाएगा. इस पुरस्कार में एक स्मारक पदक और यूएसडी 150,000 की नकद राशि शामिल है.

UNHCR ने अज़ीज़बेक आशुरोव को उनके संगठन Ferghana Valley Lawyers Without Borders (FVLWB) के साथ किर्गिस्तान की मदद करने के लिए इस पुरस्कार से सम्मानित किया है, यह पहला ऐसा देश बन गया है जिसने राज्यविहीनता को खत्म कर दिया है. उनके संगठन ने 10,000 लोगों को किर्गिज़ राष्ट्रीयता दिलाने में भी मदद की है.

उपरोक्त समाचार से RRB NTPC/IBPS RRB Mains परीक्षा  के लिए महत्वपूर्ण तथ्य-
  • UNHCR की स्थापना: 14 दिसंबर 1950; UNHCR का मुख्यालय: जेनेवा, स्विजरलैंड.
स्रोत: द बिजनेस स्टैंडर्ड

Post a Comment

Whatsapp Button works on Mobile Device only

Start typing and press Enter to search