Saturday, 27 October 2018

पहले स्वदेशी सु-330MKI लड़ाकू को IAF को सौंपा गया

पहले स्वदेशी सु-330MKI लड़ाकू को IAF को सौंपा गया


महाराष्ट्र के नासिक जिले में भारतीय वायुसेना के 11 बेस रिपेयर डिपो (BRD) ने वायुसेना स्टेशन ओझर में आयोजित एक समारोह में अपना पहला स्वदेशी रूप से निर्मित सुखोई सु-330MKI लड़ाकू जेट IAF को सौंप दिया

सुखोई सु-30MKI रूस की सुखोई द्वारा विकसित एक ट्विन जेट बहु-भूमिका वायु श्रेष्ठता विमान है और भारत के हिंदुस्तान एयरोनॉटिक्स लिमिटेड (HAL) द्वारा लाइसेंस के तहत बनाया गया है. 11 BRD IAF का एकमात्र लड़ाकू विमान मरम्मत डिपो है और मिग-29 और सुखोई 30 MKI जैसे फ्रंटलाइन फाइटरस की मरम्मत और ओवरहाल करता है.

स्रोत- न्यूज़ ऑन AIR
उपरोक्त समाचार से IBPS PO Mains परीक्षा 2018 के लिए महत्वपूर्ण तथ्य- 
  • एयर मार्शल बीएस धनोआ भारतीय वायु सेना के वर्तमान चीफ ऑफ़ एयर स्टाफ हैं. 

Post a Comment

Whatsapp Button works on Mobile Device only

Start typing and press Enter to search