Wednesday, 3 January 2018

युनेस्को ने अमूर्त सांस्कृतिक विरासत सूची में तुर्की की लुप्तप्राय 'बर्ड लैंग्वेज' को शामिल किया

युनेस्को ने अमूर्त सांस्कृतिक विरासत सूची में तुर्की की लुप्तप्राय 'बर्ड लैंग्वेज' को शामिल किया

असामान्य और बहुत ही कुशल सीटी भाषा जिसे आमतौर पर "बर्ड लैंग्वेज" कहा जाता है जिसका उपयोग दूरस्थ उत्तर तुर्की में ग्रामीणों द्वारा संचार के साधन के रूप में किया जाता है, उसे अमूर्त सांस्कृतिक विरासत की यूनेस्को की सूची में शामिल किया गया है. 
यूनेस्को ने काला सागर के ग्रामीण लोगों की "बर्ड लैंग्वेज " को अत्यावश्यक संरक्षण की आवश्यकता में विश्व धरोहर का लुप्तप्राय हिस्सा मान लिया है.


IBPS Clerk मुख्य परीक्षा के लिए उपरोक्त समाचार से परीक्षा उपयोगी तथ्य -
  • तुर्की की राजधानी- अंकारा, मुद्रा- तुर्की लीरा, राष्ट्रपति- रेसेप तय्यिप एर्दोगान.

स्रोत- द इकोनॉमिक टाइम्स


Post a Comment

Whatsapp Button works on Mobile Device only

Start typing and press Enter to search