Sunday, 22 October 2017

केरल में शिक्षकों को स्टार्टअप के लिए मिलेगा अध्ययन अवकाश

केरल में शिक्षकों को स्टार्टअप के लिए मिलेगा अध्ययन अवकाश


केरल सरकार ने राज्य स्टार्टअप मिशन (केएसयूएम) के तहत सभी महाविद्यालयों के संकाय सदस्यों को स्टार्टअप स्थापित करने के उद्देश्य से अध्ययन अवकाश देने के प्रस्ताव को हरी झंडी दे दी है. केएसयूएम के सीईओ शाजी गोपीनाथ के नेतृत्व में एक विशेषज्ञ पैनल, परियोजना के कार्यान्वयन के लिए एक पायलट के आधार पर 10 संकाय सदस्यों का चयन करेगा.

नई पहल से राज्य में शैक्षिक समुदाय के सदस्यों को उद्यमशीलता का हिस्सा बनने में मदद मिलेगी. एक प्रस्ताव के अनुसार, शिक्षक अपने स्टार्टअप शुरू कर सकते हैं, अपने समूहों का निर्माण कर सकते हैं या छात्रों के साथ संस्थापकों / सह-संस्थापकों के रूप में जुड़ सकते हैं.

उपरोक्त समाचार से परीक्षा उपयोगी तथ्य -
  • केरल में साक्षरता दर में वृद्धि की प्रवृत्ति देखी गई है और 2011 की जनगणना के अनुसार आबादी 94.00 प्रतिशत है.भारत में केरल की साक्षरता दर सबसे अधिक है.
  • केरल में लिंग अनुपात 1084 है, अर्थात प्रत्येक 1000 पुरुष के लिए, जो 2011 की जनगणना के अनुसार 940 के राष्ट्रीय औसत से नीचे है.
  • पेरियार राष्ट्रीय उद्यान, जिसे पेरियार टाइगर रिजर्व भी कहा जाता है, केरल के पहाड़ी पश्चिमी घाट में है.
  • केरल ने भारत का पहला डिजिटल राज्य बनने का गौरव हासिल कर लिया है.

स्रोत- द इकोनॉमिक टाइम्स   



Post a Comment

Whatsapp Button works on Mobile Device only

Start typing and press Enter to search