Saturday, 1 July 2017

मई में आठ प्रमुख क्षेत्रों की वृद्धि दर घटकर 3.6% हो गई है

मई में आठ प्रमुख क्षेत्रों की वृद्धि दर घटकर 3.6% हो गई है

Growth-of-eight-core-sectors-slowed-to-3.6%-in-May

मई में कोयले और उर्वरकों के उत्पादन में गिरावट के कारण मई में आठ प्रमुख क्षेत्रों की वृद्धि दर घटकर 3.6 प्रतिशत रह गई .पिछले वर्ष (2016) मई में आठ बुनियादी ढांचा क्षेत्र - कोयला, कच्चे तेल, प्राकृतिक गैस, रिफाइनरी उत्पादों, उर्वरक, इस्पात, सीमेंट और बिजली की वृद्धि दर 5.2 प्रतिशत थी.सरकार द्वारा जारी आकड़ों के अनुसार कोयला और उर्वरक उत्पादन में क्रमश: 3.3% और 6.5% की नकारात्मक वृद्धि दर्ज की गई

पिछले महीने स्टील क्षेत्र की वृद्धि दर घटकर 3.7 फीसदी हो गई, जो कि मई 2016 में 13.4 फीसदी थी. प्रमुख क्षेत्रों में धीमी वृद्धि से औद्योगिक उत्पादन सूचकांक (IIP) के सूचकांक पर भी असर पड़ेगा चूंकि इन खंडों का कुल फैक्ट्री आउटपुट में करीब 41 प्रतिशत हिस्सेदारी है. तथापि,पिछले वर्ष इसी अवधि मेंरिफाइनरी उत्पादों में वृद्धि और मई में बिजली उत्पादन 3.3 प्रतिशत और 6.2 प्रतिशत के मुकाबले क्रमशः 5.4% और 6.4% की वृद्धि हुई . मई में प्राकृतिक गैस के उत्पादन में भी 4.5 प्रतिशत की बढ़ोतरी हुई थी, जो कि एक साल पहले 6.5 प्रतिशत की नकारात्मक वृद्धि दर के मुकाबले बढ़ी है. अप्रैल में, इन आठ क्षेत्रों में 2.8 प्रतिशत की वृद्धि दर दर्ज की गई थी.

स्रोत- द हिंदू बिजनेस लाइन


Post a Comment

Whatsapp Button works on Mobile Device only

Start typing and press Enter to search