Tuesday, 30 May 2017

चारा आकलन के लिए अमुल ने इसरो के साथ समझौता किया

चारा आकलन के लिए अमुल ने इसरो के साथ समझौता किया



गुजरात कोऑपरेटिव मिल्क मार्केटिंग फेडरेशन (जीसीएमएमएफ) ने भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) के साथ चारा एकड़ मूल्यांकन के लिए उपग्रह अवलोकन और अंतरिक्ष प्रौद्योगिकी का उपयोग करने के लिए समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए हैं.

जीसीएमएमएफ़ अपने उत्पादों को 'अमूल' ब्रांड के नाम से प्रस्तुत करता है. समझौता ज्ञापन (एमओयू) के तहत, इसरो, ग्रामीण स्तर पर खाद्य फसलों और चारा फसलों के बीच पहचान करने में मदद करेगाऔर हरे चारे की खेती के लिए गांव के स्तर पर वर्तमान फैलाव और खेती योग्य बंजर भूमि के उपयुक्त क्षेत्रों का पता लगाएगा. अमुल वर्तमान में 18,500 से अधिक गांवों में लगभग 35 लाख दूध उत्पादक सदस्यों से लगभग 150 लाख लीटर दूध खरीद रहा है.

    देना बैंक पीओ परीक्षा के लिए स्टेटिक तथ्य -
    • जीसीएमएमएफ के प्रबंध निदेशक आर एस सोढ़ी हैं
    • इसरो के अध्यक्ष ए एस किरण कुमार हैं
    • इसरो की स्थापना 1 9 6 9 में हुई और उसका मुख्यालय बेंगलुरु, कर्नाटक में है
    • विक्रम साराभाई इसरो के संस्थापक थे.
    स्त्रोत- बिजनेस स्टैण्डर्ड

    Post a comment

    Whatsapp Button works on Mobile Device only

    Start typing and press Enter to search