Thursday, 30 March 2017

परियोजना NISAR पर संयुक्त काम कर रहे हैं नासा और इसरो

परियोजना NISAR पर संयुक्त काम कर रहे हैं नासा और इसरो


भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) और जेट प्रणोदन प्रयोगशाला (जेपीएल), नेशनल एयरोनॉटिक्स एंड स्पेस एडमिनिस्ट्रेशन (नासा) संयुक्त रूप से दोहरी फ़्रिक्वेंसी (एल एंड एस बैंड) के सिंथेटिक एपर्चर राडार इमेजिंग सैटेलाइट, नासा-इसरो सिंथेटिक एपर्चर राडार (एनआईएसएआर) के विकास के लिए काम कर रहे हैं.

L-band SAR को जेपीएल/नासा द्वारा विकसित किया जा रहा है, जबकि इसरो S-band SAR विकसित कर रहा है.

उपरोक्त समाचार से परीक्षा उपयोगी तथ्य :
  • नासा और इसरो संयुक्त रूप से परियोजना NISAR पर काम कर रहे हैं.
  • ISRO की फुल फॉर्म भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (Indian Space Research Organization) है.
  • ISRO के चेयरमैन एस किरण कुमार हैं और इसका मुख्यालय बेंगलुरु, भारत में है.
  • NASA की फुल फॉर्म नेशनल एयरोनॉटिक्स एंड स्पेस एडमिनिस्ट्रेशन है.
  • NISAR की फुल फॉर्म NASA-ISRO Synthetic Aperture Radar है.


स्रोत - दि इंडियन एक्सप्रेस

Post a Comment

Whatsapp Button works on Mobile Device only

Start typing and press Enter to search