Wednesday, 28 September 2016

वैश्विक प्रतिस्पर्धा सूचकांक, 2016

वैश्विक प्रतिस्पर्धा सूचकांक, 2016

भारत के लिए एक और उपलब्धि


वर्ल्ड इकनोमिक फोरम (WEF) ने 138 देशों की रैंकिंग वाली वैश्विक प्रतिस्पर्धा सूचकांक जारी कर दिया है. WEF के अनुसार भारत ने 16 स्थानों की छलांग लगाते हुए इस सूचकांक में 39वां स्थान हासिल किया है.

पिछले वर्ष (2015-16), भारत 55 वें स्थान पर था. यह लगातार दूसरा वर्ष है जब भारत ने 16 स्थानों की छलांग लगाई है. इस सूची में किसी भी देश द्वारा यह बड़ी छलांग लगाई गई है. WEF की यह रैंकिंग मोदी सरकार द्वारा देश में लगातार आर्थिक सुधारों के लिए किये जा रहे प्रयासों के लिए एक ऊर्जा बनकर आई है.  

WEF कोलोग्नी (Cologny), जिनेवा में स्थित एक गैरलाभकारी स्विस फाउंडेशन है, और वर्तमान में Klaus Schwab इसके एग्जीक्यूटिव चेयरमैन हैं. ब्रिक्स देशों में चीन (28वां स्थान) के बाद भारत दूसरा सबसे अधिक प्रतिस्पर्धी देश है. रूस और दक्षिण अफ्रीका दो स्थान ऊपर जाकर क्रमशः 43 और 47 पर पहुँच गए हैं. केवल ब्राज़ील छः स्थान के नुक्सान के साथ 81वें स्थान पर आ गया है. स्विट्ज़रलैंड पिछले आठ वर्षों से लगातार इस सूची में पहले स्थान पर रह रहा है.

टॉप के 5 देश हैं :: स्विट्ज़रलैंड (1st), सिंगापुर (2nd), संयुक्त राज्य अमेरिका (3rd), नीदरलैंड (4th) और जर्मनी (5th)

अब इस समाचार से संबंधित कुछ प्रश्नों की बात करते हैं :
1. वैश्विक प्रतिस्पर्धा सूचकांक, 2016-17 में कौन सा देश टॉप पर है ?
2. वैश्विक प्रतिस्पर्धा सूचकांक, 2016-17 में भारत किस टशन पर है?
3. वैश्विक प्रतिस्पर्धा सूचकांक, 2016-17 किस संस्थान द्वारा तैयार किया गया है ?









Post a Comment

Whatsapp Button works on Mobile Device only

Start typing and press Enter to search