Tuesday, 3 October 2017

ग्रेविटेशनल-वेव डिटेक्टरों को भौतिकी का नोबेल पुरस्कार

ग्रेविटेशनल-वेव डिटेक्टरों को भौतिकी का नोबेल पुरस्कार


भौतिकी के नोबेल पुरस्कार 2017 से "लिगो डिटेक्टर में निर्णायक योगदान और गुरुत्वाकर्षण तरंगों का अवलोकन करने के लिए " लेजर इंटरफेरोमीटर ग्रेविटेशनल-वेव ऑब्जर्वेटरी के रेनर वीस, बैरी सी. बरिश और किप एस थोर्ने को सम्मानित किया गया है.

इस पुरस्कार को स्वीडन की रॉयल एकेडमी ऑफ साइंसेज द्वारा 9 मिलियन क्रोनर (1.1 मिलियन डॉलर) के साथ घोषित किया गया. पिछले 25 वर्षों से, पुरस्कार कई विजेताओं के मध्य साझा किया जाता है.

उपरोक्त समाचार से परीक्षा उपयोगी तथ्य -
  • 2016 का पुरस्कार तीन ब्रिटिश में जन्मे शोधकर्ताओं को दिया गया था, जिन्होंने टोपोलॉजी के गणितीय सिद्धांत को लागू किया था ताकि सुपरकोंडक्टर्स और सुपरफ्लुएड्स जैसे विदेशी पदार्थों के कार्य को समझने में मदद मिल सके.
  • अमेरिका के तीन वैज्ञानिकों जैफ्री सी हाल, माइकल रोसबाश तथा माइकल डब्ल्यू यंग को मानव शरीर की ‘‘आंतरिक जैविक घड़ी’’ विषय पर किए गए उनके उल्लेखनीय कार्य के लिए इस साल के चिकित्सा के नोबेल पुरस्कार के लिए चुना गया है. ‘आंतरिक जैविक घड़ी’ को सर्केडियन रिदम के नाम से जाना जाता है.
स्रोत- द हिंदू


Post a Comment

Whatsapp Button works on Mobile Device only

Start typing and press Enter to search