Saturday, 22 April 2017

रक्षा उद्योग के लिए भारत और दक्षिण कोरिया ने एमओयू साइन किया


भारत और दक्षिण कोरिया ने जहाज निर्माण यार्ड्स के बीच रक्षा उद्योग सहयोग के लिए अंतर-सरकारी समझौता ज्ञापन (एमओयू) पर हस्ताक्षर किए हैं.

नई दिल्ली में भारतीय पक्ष का प्रतिनिधित्व रक्षा मंत्रालय के सचिव ए के गुप्ता और दक्षिण कोरिया का प्रतिनिधित्व उनके समकक्ष चांग मियांग जिन द्वारा किया गया. इसके लिए भारत ने विशाखापत्तनम में हिंदुस्तान शिपयार्ड को नामित किया है जबकि दक्षिण कोरिया ने अपने शिपयार्ड का अभी तक नामांकन नहीं किया है. यह समझौता ज्ञापन केंद्र सरकार की 'मेक इन इंडिया' की पहल का हिस्सा है.

भारतीय इंजीनियरिंग समूह लार्सन एंड टुब्रो (एलएंडटी) और दक्षिण कोरिया के हनवा टेकविन ने हाल ही में भारतीय सेना के लिए के 9 वज्र-टी से ट्रैक किए गए स्वचालित आर्टिलरी बनाने के लिए एक अनुबंध पर भी हस्ताक्षर किए हैं.

    उपरोक्त समाचार से परीक्षा उपयोगी तथ्य:-
    • रक्षा उद्योग सहयोग के लिए भारत और दक्षिण कोरिया ने नई दिल्ली में एमओयू साइन किया.
    • भारत के लार्सन एंड टुब्रो (एलएंडटी) और दक्षिण कोरिया के हनवा टेकविन ने हाल ही में भारतीय सेना के लिए के 9 वज्र-टी से ट्रैक किए गए स्वचालित आर्टिलरी बनाने के लिए एक अनुबंध पर भी हस्ताक्षर किए हैं.

    स्रोत - फाइनेंसियल एक्सप्रेस 

    No comments:

    Post a Comment